Reply to – “An Invitation to Rape”

This is written in protest against a recently released Hindi poem inviting Indian men to rape. The invitation part is verbatim from that viral video. I have broken up the original poem in parts and given the replies in parts. Original video here


The Invitation

आओ मेरा रेप करो!

बसों में तो तुमसे डरती हूँ

मंदिरों में करो;

आश्रम में करो,

भरे बाज़ार में करो.

***

The Reply

तो तुम सेक्स की भूखी हो, शायद पागल भी

जो बसों में हमसे डरती हो, जबकि तुम्हारी सीट रिजर्व्ड है,

और बस भी।

हम तो सबके नौकर है, जो साला ज्यादा टैक्स भी दे..

और भीड़ कि धक्का मुक्की से जूझते हुवे ऑफिस जाएँ।

और तुम को ज़रा सा धक्का लगे तो,

तुम मुझे कभी भी रेप के आरोप में फँसी पे चढ़ा दो।

चाहे तो कभी भी हमारे ऊपर झूठे गैंगरेप का आरोप डाल दो। (Newslink)

***

The Invitation

अरे देखो ना, मैं वासना की भूखी,

मैं कम कपड़ों में तुम्हे पुकार रही हूँ।

ज़ोर ज़ोर से तुम्हारी अंदर की भावनाओं को जगा रही हूँ,

देखो, में अभी मोड़ पर अकेली खड़ी हूँ।

देखो इन मांसल पिंडियों को देखो ना।

***

The Reply

मुझे पता है तुम क्या हो।

क्यूं की कम कपडा पेहेनना तो तुम्हारी शशक्तिकरण है।

और जब हम देखे तो हम ख़राब है।

हमारे देखने से इतनी समस्या तो घरों में ही रहो,

हम ने तो कभी शिकायत नही की है की तुम लड़कियां हमे घूरती हो।

शुक्र मानो की हम अभी भी तुम्हारी बाहरी सौंदर्य पे मरते हैं।

नही तो तुम ज़िन्दगी भर कुंवारी ही रहे जाती।

***

The Invitation

भूल गए, जब पापा की ऊँगली पकड़ कर बाज़ार घुमा करते थे..

भूल गये कितना मज़ा आता था?

भूल गए, पापा कितने चटखारे ले ले कर,

सब्ज़ी वालियों के, मेहतरानियों के, मिसेस भाटिया के कूल्हों को

आखें फाड़ फाड़ कर देखा करते थे।

***

The Reply

नही मैं भुला नहीं हूँ, जब मेरा पापा मुझे बाज़ार लेकर जाते थे।

उतनी छोटी सी उम्र से मुझे तुम्हारी प्रोवाइडर बनने का ट्रेनिंग दिया जा रहा था।

मुझे और मेरी पापा को काम के सिवाय और कुछ देखने का मौका नही मिला।

तुम्हे शायद अपने पापा से यही ट्रेनिंग मिली होगी।

अपनी क्लीवेज दिखाओ और सशक्त बन जाओ।

ज़िन्दगी में तुम्हारे पापा यदि तुम्हे कुछ अच्छी शिक्षा दी होती

तो तुम आज यूँ क्लीवेज दिखाने में व्यस्त नहीं होती।

और गुरुजनों को सम्मान करना शिखती।

हमारे पापा जैसा किसी ने ही, बिधबा बिबाह शुरूआत करवाई थी,

उन्ही जैसे लोगों ने महिला सुरक्षा के लिए अपनी जान गंवाई थी।

और तुम हो की सबको क्रिमिनल बना रही हो।

***

The Invitation

इन्ही रंगीन पापा के पुत्रों, इन मामले में भी अपने पापा से आगे निकल जाओ

घूरते तो डरे हुए लोग हैं,

तुम तो बड़े बहादुर हो ।

आओ मेरा रेप करो।

***

The Reply

अभी तो अपने पापा पर गुस्सा आता है।

की उन्होंने हमे लड़कियों को सम्मान करना सिखलाया था।

उनके लिए मरने मिटने का शपथ दिलाई थी।

वह कभी हमे बोला क्यों नही की कुछ चुडेल भी लड़की बने घूमती है।

और अपनी बहादुरी दिखाने के लिए ब्यासि साल के बुजुर्ग पर भी झूठे रेप केस लगाती है। (Newslink)

***

The Invitation

तुम्हारी माँ घर का काम करते करते पल्लू ठीक
करना भूल जाती है और पड़ोसी देखते हैं।

पड़ोसी पे नहीं, तुम्हें अपनी माँ पे गुस्सा आता हैं!

और वो तुम्हारी बहन ..

हरामज़ादी ने इस बार कितना टाइट सलवार सूट सिलवाया है

अरे ये सब भरा हुआ गुस्सा कहाँ निकलोगे??

ढोर, गवार, शूद्र , पशु, नारी,

इन सालियों को अपनी सही जगह कब दिखाओगे?

***

The Reply

जब तुम्हारी पापा हमारी पडोशी हो, या फिर वो लेख़क..

जिसने तुम्हारी पोएट्री लिखी हैं फेमस होने के लिए.…

हमारी माँ को तो साबधानी रखनी ही चाहिए।

गुस्सा तो माँ पे अयेगाही, जो तुम्हारी जैसी पडोसी को घर पे आने देती है।

और वो मेरी बेहेन, जिसने टाइट सलवार सूट सिलवाया है !

तुम्हारी जैसी मनचलों का बातों में आ जाती है।

जो की टाइट सलवार सूट को अपनी शशक्तिकरण मानके खुश रहती है।

जब की दुनिया आस्मां में जा चुकी है।

Women scientists from ISRO
Our salute to the women scientists of ISRO who made us proud. Image courtesy Reatamil.com

ठीक ही बोली हो तुमने उसे अपनी जगह दिखाना है।

ता की वह तुम्हारी जैसी निकम्मी न बन जाये।

***

The Invitation

तुम्हारी टैक्सी में बैठी हूँ,

मेरा रेप करो!

तुमसे म्यूजिक सीखने आती हूँ,

मेरा रेप करो!

तुम्हारे दवाखाने में टॉन्सिल दिखने आई हूँ,

तुम्हारे आश्रम में माँ को साथ लायी हूँ,

मेरा करो, माँ का भी करो!

हमारी तड़पती जवानी शांत करो।

***

The Reply

टैक्सी ड्राइवर से लफड़ा हो जाए तो रेप केस दर्ज करो,

स्वामी के आश्रम को बदनाम करना हो तो रेप केस दायर करो!

डॉक्टर से फीस को लेकर झड़प हो जाए, तो रेप केस दायर करो,

अपने सगे पिता के ऊपर झूठा रेप केस दायर करो (Newslink)

अपने पिता तुल्य ससुर के ऊपर झूठा रेप केस दायर करो ।। (Newslink)

प्रॉपर्टी का विवाद हो, तो रेप फाइल करो। (Newslink)

जॉब से टर्मिनेट जाओ, तो रेप फाइल करो। (Newslink)

फॉर्मर लवर पे करो। (link)

अपनी कजिन भाई पे करो (link)

एक बार करो, ग्यारा बार करो।

लॉयर पे करो, अपनी हस्बैंड पे करो।  (Newslink)

नेबर पे करो, बॉयफ्रेंड पे करो।

शादी के इच्छा है, और लड़का ना करदे,

तो उस लड़के के खिलाफ करो।

 और जब वो शादी के लिए हाँ करदे

अपना रेप झूठा मान लो। (link)

अपनी तड़पती शैतानियों को शांत करो।

***

The Invitation

और ये गोरी चमड़ी..

ये तो होती ही रंडियाँ हैं, आदमखोर औरतें..

भारतीयों संस्कृति के बिलकुल विपरीत औरतें..

उनके देश में मर्द नही बचे, इसलिए तुम्हे ख़राब करने आयी हैं।

मेरा भारत माता के पुत्रों

एक छोटी सी सोशल सर्विस नही करोगे?

***

The Reply

हां ये गोरी चमड़ी..

वो तो धुली है गंगाजल से।

जो की भारत से ज्यादा रेप इनके देश में होती है। (Link – Global rape Statistics)

पर वो भी तो हमारी संस्कृति खराब नही कर पाते।

तुम क्या उनसे कुछ कम हो?

तुम जो अपनी ही देश की बदनामी करती हो..

वो तो फिर भी इसे समझते है। (link – Maria Wirth)

मेरा भारत माता के कन्याओं।

सिर्फ रेप का स्टोरी बनाके फेमस बनोगे..

या, फाल्स रेप का पनिशमेंट भी मांगोगे?

(In India 75% rape cases are false, NCRB data)

***

Footnote – We from India’s Men’s Rights groups strongly protest such kind of biased video made against Indian men. India’s rape number is still low compared to most other developed countries and the video makers do not have any justification for their claim that “90% rape cases are not reported“. Based on complete lies, the men in our country are shamed by some attention hungry people and we demand strong punishment for the entire team behind preparing the video.

Their poem is replicated here in the invitation section so that others who did not see the video so far can check how much hatred the same women have, for whom Indian men are ready to die or criminalize other men.

भारत में पुरुषों पर हो रहे इस शारीरिक और आर्थिक शोषण को कोई नहीं देखता, सबको पुरुषों में ही बलात्कारी नज़र आते हैं, जबकि महिलाएं पुरुषों को सेक्स हेतु अपने मोहजाल में फंसाने में पुरुषों की तुलना में महिलाएं पुरुषों से आगे हैं और पुरुषों से अधिक बलात्कारी हैं  अत्यधिक आगे हैं!

Link- http://www.chandigarh.amarujala.com/feature/crime-bureau-chd/accuse-of-sexual-harassment-of-students-lady-teacher-arrested-hindi-news/

LINK- http://www.bangaloremirror.com/columns/sunday-read/One-in-two-boys-is-sexually-abused-in-India/articleshow/45006816.cms

Link-  http://www.chandigarh.amarujala.com/feature/crime-bureau-chd/blackmail-and-extortion-for-allegation-of-false-rape-hindi-news/

Link – http://hindi.pardaphash.com/news/774298/774298.html#.VNc0qdKUcrW

***

Special thanks to – Deepika Narayan Bhardwaj and Ajay Verma for their help

Related

  1. False Rape Society on Facebook

  2. When filing false rape is empowerment

Advertisements

4 thoughts on “Reply to – “An Invitation to Rape”

  1. Yes the video is demeaning and degrading. A man has become a commodity. Anything that can be said against a man is considered funny, witty and truthful. Same goes for the adverts n Asain Paints where it claims husbands are useless. Who the f….scripted this and I really pray and hope these men dolls will be feminised to this level that they wont even have a space even with the men community.
    Imagine we make an ad saying Wives are Useless….because a man’s life is worthless.
    Imagine a Jordanian woman pilot was burnt alive by ISIS.
    Feminism is a curse and women who take to this is actually scrwing up their family, peace and gender in general.
    The man will be pained for the time being but with his rational thoughts he will escape out.

    Like

  2. Very well written post. Great reply to that bi**ch.

    Rajaram mohan rai and jyotirao phule ….both are remembered as first to start making women strong and self dependent and literate….and they were MAN.

    women should never forger this truth and they should respect men and should be always thankful to men.

    All the laws in favour of women are made by men only in india.

    Indian women are आस्तीन की सांप।

    Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s